Me And Marathi

—- मैं और मराठी —-

उज्ज्जैन मे २२ सालो मे हिंदी और अंग्रेजी के सिवा किसी और भाषा के बारे मे न तो कभी किसी से बात की न ही किसी से कुछ सुनने को मिला, हालांकि भाषाए कितनी है ये जरुर पता है।

मालवा मे रहकर मालवी भी कभी कभी बोलता था, इससे इतना कुछ फर्क कभी नहीं पड़ा क्योकि मध्य प्रदेश में भाषा को लेकर इतने असमंजस के माहौल से कभी सामना ही नहीं हुआ, किन्तु महाराष्ट्र मे तो जैसे मराठी ही सब कुछ है खासकर उन लोगो के लिए जो यहाँ पिछले कई सालो से या जन्म से ही रह रहे है और कुछ लोगो की मराठी तो इतनी तेज़ है की सारी बाते आप के ऊपर से ही चली जाएगी और आप सिर्फ उनका चेहरा ही देखते रह जाओगे क्योकि आप को कुछ समझ मे तो आने वाला है नी, और अगर गलती से आप ने कुछ समझने की कोशिश की तो अर्थ का अनर्थ केर बैठेंगे तो ऐसी परस्तिथि मे दो ही बाते हो सकती है या तो आप मराठी सीखो या फिर उनसे हिंदी बोलने के लिए विनती करो दोनों ही तरीके थोड़े से मुश्किल है, लेकिन मेरी कोशिश अभी जरी है पता नही कितना समय लगेगा, लेकिंन ये तो तय है कि बोलना तो ठीक है मै कम से कम मराठी अच्छी तरह से समझने जरुर लग जाऊंगा, हालाँकि मुझे यहाँ 3 महीने हो चुके है लेकिन फिर भी रोज कुछ न कुछ ऐसा सुनने को मिलता है जो की पहले कभी सुना ही न हो।

मुझे शुरुआत मे तो लगा जैसे न जाने किस अजनबी दुनिया मे आ गया हु, क्योकि आस पास के लोग बाते तो बहुत सारी करते लेकिंन समझ मे ही नहीं आता की तारीफ कर रहे है या फिर मजाक बना रहे है, दिमाग जैसे प्रोसेस करना ही बंद कर देता था, और दोनों कानो का पूरा उपयोग होता, एक से सुनकर दुसरे से बाते अपने आप बाहर जा रही थी, लेकिंन किसी को पता न चले इसलिए मेरे हाव-भाव ऐसे होते थे कि हा मुझे सब समझ मे आ रहा हो, कभी तो सोचता छोड़ो यार, कौन पड़े मराठी के चक्कर मे।

लेकिन छोड़ भी नही सकता क्योकि काम और कुछ नया सिखने के लिए बात तो करनी ही पड़ेगी ऐसा नही है कि लोग सिर्फ मराठी मे ही बोलते है मुझसे अक्सर हिंदी मे भी बात कर लेते है सिर्फ उतनी ही जितनी जरुरी होती फिर साथ वालो से मराठी मे शुरू हो जाते तो मेरा काम धक्के खा-खा के जैसे तैसे भी तो चल जाता है लेकिन फिर मैंने मराठी सीखना शुरू कर ही दिया और साथ वालो से सबसे पहले खाने के बारे मे कुछ-कुछ शब्द सीखे, जैसे कि खाना के लिए के लिए कैसे पूछते है, खाना बना है या नही, साथ वालो ने खाना खा लिया क्या और भी बहुत कुछ थोडा बहुत गूगल किया, सोच सुनकर तो ठीक है पढकर भी देख लेते है तो मराठी किताब को पदने की कोशिश की लेकिन इतनी कुछ खास कामयाबी हासिल नही हुई दो लाइनें पढ़ी और किताब बंद करके के रखा दी।

मुसीबत तो यहा भी कम नही पड़ी जिससे मराठी शब्द पूछता वो कभी कभी ऐसे शब्द सिखा देते कि आप सामान्य तौर पर उपयोग नहीं कर सकते और तो और वो ये भी नही बताते कि ये कहा बोलना है और कहा नही, तो दो-तीन बार ऐसा ही हुआ गलत समय पे गलत शब्द बोल दिया लेकिन सबको पता था, तो बात हँसी मजाक मे टल गयी।

ये बात जरुर है कि जैसे जैसे मराठी समझ मे आती जा रही है अच्छा लग रहा है एक और नई भाषा सीखते हुए, कुछ शब्द ऐसे भी है जो सिर्फ मराठी मे ही अच्छे लगते है और वो आपको मराठी सिखने के बाद ही समझ मे आएंगे तो इसलिए सीखो और सिखाओ।

Advertisements

One thought on “Me And Marathi

  1. Just read this blog post. If you are still in Maharashtra or still struggling to understand/learn Marathi I would suggest you to visit my blogs. Many Indians,NRIS & even foreigners are successfully learning Marathi using my blog &YouTube videos.
    You can easily learn Marathi online,free, self-study through my blog
    http://kaushiklele-learnmarathi.blogspot.in
    It has 100+ lessons grammar, sentences,conversations

    Hindi and Marathi has many similarities. Also you may be more comfortable with Hindi. So you can Learn Marathi from Hindi using my other blog
    हिन्दी से मराठी सीखें http://learn-marathi-from-hindi-kaushiklele.blogspot.in
    It also has 100+ lessons grammar, sentences,conversations

    Every blog lesson has corresponding YouTube video. So you One can learn Marathi language and pronunciation by watching videos on my YouTube channel
    https://www.youtube.com/c/KaushikLele_Learn_Marathi .. 200+videos

    Let me know if you get chance to visit them. If you liked, please share it with you friends/online followers.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s